June 19, 2024

मलांगड़ में शराब की दुकान खोलने का विरोध,महिलाओं ने एसडीएम को दिया ज्ञापन

अजय कुमार,बंगाणा, उपमण्डल बंगाणा के मलांगड़ में शराब के ठेके के खोलने के विरोध में लोगों ने शराब के ठेके को बन्द करने के लिए हल्ला बोला। एसडीएम बंगाणा योगराज धीमान पुलिस सहित मौके पर पहुंचे। एक दर्जन महिलाओं ने एसडीएम बंगाणा को शराब के ठेके को बंद करने का ज्ञापन भी सौंपा। बताते चले कि मलांगड़ पँचायत में बीते 5 बर्षो से शराब का ठेका खुला हुआ है। लेकिन इस बार किसी दूसरे ठेकेदार ने मलांगड़ में शराब का ठेका लिया है। पहले उक्त ठेका मलांगड़ के निजी स्कूल के साथ था और उक्त ठेके के साथ घर होने पर ठेके का विरोध होता रहा है व मामला पूर्व सीएम जयराम के पास भी पहुंचा था। इस बार ठेकेदार ने शराब की दुकान को मलांगड़ पँचायत घर से डेढ़ सौ मीटर की दूरी पर एक सड़क के किनारे सुनसान दुकानों तक ले आये। उक्त जगह के डेढ़ सौ मीटर तक न कोई दुकान है और ही कोई घर है।  फिर भी शराब के ठेके खोलने का विरोध हो रहा है। ज्ञात रहे बंगाणा ऊना बड़सर मैहर हमीरपुर नादौन में बाजार के मध्य शराब की 3 से चार दुकान खुली है। लेकिन उक्त बाजारों में कोई भी विरोध नहीं करता है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार कुछ शराब माफ़िये ही यह करवाते है ताकि वह दो नम्बर में अपना गोरख धंधा चला सकें। जब उक्त जगह पर कोई घर नहीं कोई दुकान नहीं फिर शराब की दुकान खोलने का विरोध क्यों? और दूसरी बात है कि यह शराब की दुकान ठेकेदार को एक वर्ष के लिए दी गई है। अगले वर्ष जो नया ठेकेदार होगा वह अपने हिसाव से दुकान खोलेगा। हालांकि पिछले 5 वर्षो से उक्त शराब के ठेके का विरोध होता आ रहा है। लेकिन अभी तक न तो कराधान विभाग ने बन्द करवाया है और न ही ठेकेदार पर कार्रवाई की है। इस सम्बंध में एसडीएम बंगाणा योगराज धीमान का कहना है कि शराब की दुकान खोलने की अनुमति सरकार और कराधान विभाग से मिलती है और यही परमीशन देते है। उन्हें उक्त जगह शराब की दुकान खोलने के विरोध में महिलाओं ने ज्ञापन दिया है जिसे उन्होंने कराधान विभाग को अवगत करवा दिया है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *