June 15, 2024

महाराजा रणजीत सिंह प्रैपरेटरी इंस्टीट्यूट के छह और कैडिट बने भारतीय फ़ौज के कमिशनड अफ़सर

1 min read

इंस्टीट्यूट ने 56.64 फीसद की सफलता दर के साथ स्थापित किया एक और मील पत्थर
चंडीगढ़, महाराजा रणजीत सिंह आम्र्ड फोर्सिज़ प्रैपरेटरी इंस्टीट्यूट ( एम. आर. एस. ए. एफ. पी. आई.) एस. ए. ऐस्स. नगर के छह और कैडिटों को देहरादून स्थित इंडियन मिलिट्री अकैडमी ( आई. एम. ए) से सफलतापूर्वक के पास होने के उपरांत भारतीय फ़ौज में कमीशन मिल गया है। पासिंग आउट परेड का निरीक्षण लैफ्टिनैंट जनरल ऐम्म. वी. सुचिन्दर कुमार, पी. वी. एस. ऐम्म., ए. वी. एस. एम., वाई. एस. एम., वी. एस. एम., जीओसी- इन- सी, नॉर्दर्न कमांड की तरफ से किया गया।
इन छह कैडिटों अमरिन्दर सिंह ( जि़ला मोहाली), शोभितदीप सिंह ( गुरदासपुर), अभय प्रताप सिंह ( मोहाली), अदित्या बर्मी ( होशियारपुर), अदित्या शर्मा ( मोहाली) और तुशांत ( पठानकोट) के कमिशनड अफ़सर बनने से महाराजा रणजीत सिंह आम्र्ड फोर्सिज़ प्रैपरेटरी इंस्टीट्यूट की स्थापन से ले कर अब तक कुल 158 कैडिटों ने भारतीय हथियारबंद सेनाओं में कमीशन हासिल किया है।
पंजाब के रोजग़ार उत्पत्ति, हुनर विकास और प्रशिक्षण मंत्री श्री अमन अरोड़ा ने इन कैडिटों को बधाई देते हुये उनको हथियारबंद सेनाओं में सफल भविष्य के लिए शुभकामनाएं भी दीं। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री स. भगवंत सिंह मान के नेतृत्व वाली सरकार के पंजाब में सत्ता संभालने के बाद महाराजा रणजीत सिंह आम्र्ड फोर्सिज़ प्रैपरेटरी इंस्टीट्यूट के 50 कैडिट कमिशनड अफ़सर बने हैं। इस इंस्टीट्यूट ने 56. 64 फीसद की सफलता दर हासिल करके एक और मील पत्थर स्थापित किया है।
महाराजा रणजीत सिंह आम्र्ड फोर्सिज़ प्रैपरेटरी इंस्टीट्यूट के डायरैक्टर मेजर जनरल अजय एच. चौहान ( सेवामुक्त) ने बताया कि संस्था के दो और कैडिटों जसकीरत सिंह ( जि़ला मोहाली) और जालंधर जिले के सक्षम गुप्ता को इस साल मई में भारतीय जल सेना में सब- लैफ्टिनैंट के तौर पर कमीशन मिला है। उन्होंने कैडिटों को इंस्टीट्यूट के ‘निश्चय कर अपनी जीत करों’ वाले मोटो पर खरा उतरने और देश की सेवा प्रति सच्चे सिपाही बनने के लिए प्रेरित किया।
बॉक्स
22 कैडिटों ने सर्विस सिलैक्शन बोर्ड की इंटरव्यू की पास
डायरैक्टर मेजर जनरल अजय एच चौहान ( सेवामुक्त) ने बताया कि इस इंस्टीट्यूट के 22 और कैडिटों ने सर्विस सिलैक्शन बोर्ड ( एस. एस. बी.) की इंटरव्यू भी पास की है। उन्होंने बताया कि इस साल अप्रैल में एन. डी. ए. – 152 पाठ्यक्रम की मेरिट सूची का ऐलान किया गया था, जिसमें कैडिट नवजोत सिंह ने आल- इंडिया आर्डर आफ मेरिट में 11 वां रैंक हासिल किया है। अब यह 22 कैडिट नेशनल डिफेंस अकैडमी ( एन. डी. ए.) या इस के बराबर की प्रशिक्षण अकैडमियों में जाने के लिए ज्वाइन लेटरों का इन्तज़ार कर रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *