June 20, 2024

नुक्सान की रिपोर्ट तैयार करें कृषि-बागवानी अधिकारी

1 min read

डीसी हेमराज बैरवा ने जलस्रोतों की सफाई के भी दिए निर्देश

गर्मी के सीजन के लिए आवश्यक तैयारियों की समीक्षा की

शिवालिक पत्रिका, हमीरपुर 27 अप्रैल। उपायुक्त एवं जिला आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (डीडीएमए) के अध्यक्ष हेमराज बैरवा ने कृषि और बागवानी विभाग के अधिकारियों को जिला में बेमौसमी बारिश तथा इससे पहले सर्दियों में सूखे जैसी स्थिति के कारण विभिन्न फसलों एवं फलदार पौधों को हुए नुक्सान की रिपोर्ट तैयार करने के निर्देश दिए हैं। वीरवार को यहां हमीर भवन में जिला के अधिकारियों के साथ एक बैठक की अध्यक्षता करते हुए उपायुक्त ने ये निर्देश दिए। इस बैठक में आगामी गर्मी के सीजन के लिए आवश्यक तैयारियों एवं विभिन्न प्रबंधों की समीक्षा की गई।

उपायुक्त ने कहा कि हमीरपुर जैसे पानी की कमी वाले क्षेत्रों में कई बार मई और जून के महीने में पेयजल की कमी एवं सूखे जैसी स्थिति उत्पन्न हो जाती है। ऐसी स्थिति से निपटने के लिए सभी संबंधित विभागों के पास अपनी कार्य योजना होनी चाहिए। हेमराज बैरवा ने कहा कि पिछले कुछ दिनों से बारिश के कारण जिला में गेहूं की फसल को काफी नुक्सान पहुंचा है। इसके अलावा सर्दियों में इस बार बहुत ही कम बारिश के कारण भी गेहूं की फसल खराब हुई है। कृषि विभाग के अनुमान के मुताबिक सर्दियों में कम बारिश के कारण गेहूं की फसल को लगभग 40 करोड़ रुपये का नुक्सान हुआ है। उन्होंने कृषि और बागवानी विभाग के अधिकारियों को नुक्सान की विस्तृत रिपोर्ट तैयार करने तथा फसल बीमा योजना का व्यापक प्रचार-प्रसार करने के निर्देश दिए। उपायुक्त ने बताया कि जिला के लगभग 38 हजार किसानों ने अपनी फसलों का बीमा करवाया है। अन्य किसानों को भी बीमा करवाने के लिए प्रेरित किया जाना चाहिए।

उपायुक्त ने जलशक्ति विभाग के अधिकारियों से कहा कि वे जिला के सभी पेयजल स्रोतों की नियमित रूप से सफाई सुनिश्चित करवाएं तथा गर्मी के सीजन में पेयजल आपूर्ति को सुचारू बनाए रखने के लिए प्रभावी कदम उठाएं। जलजनित रोगों की रोकथाम एवं उपचार के लिए स्वास्थ्य विभाग भी पूरी तैयारी रखे। हेमराज बैरवा ने कहा कि वनों में आग की घटनाओं को रोकने के लिए वन विभाग अपनी सभी 70 बीटों में फील्ड कर्मचारियों को अलर्ट पर रखे तथा स्थानीय पंचायत जनप्रतिनिधियों एवं वालंटियरों के साथ समन्वय स्थापित करे। उन्होंने कहा कि जिला में पशुचारे की संभावित कमी के मद्देनजर पशु पालन विभाग के अधिकारी भी तैयारी रखें। बैठक में अन्य मुद्दों पर भी विस्तार से चर्चा की गई।

इस अवसर पर एडीसी जितेंद्र सांजटा, एसडीएम हमीरपुर मनीष कुमार सोनी, एसडीएम सुजानपुर राकेश शर्मा, एसडीएम भोरंज संजय स्वरूप, एसडीएम बड़सर डॉ. रोहित शर्मा और अन्य अधिकारी भी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *