April 19, 2024

31 दिसंबर तक पूरा हरियाणा होगा लाल-डोरा मुक्त: दुष्यंत

1 min read

शिवालिक पत्रिका, चंडीगढ़ , हरियाणा सरकार के गत तीन वर्षों में राजस्व विभाग के तहत कई सकारात्मक कदम उठाये जाने के तहत जहां इसका आधुनिकीकरण और डिजि़टलीकरण किया गया है वहीं स्वामित्व और ‘लार्ज-स्केल मैपिंग’ की सहायता से सम्पत्ति को विवाद मुक्त करने की दिशा में भी आगे बढ़े हैं। राज्य के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने बताया कि राज्य के 22 जिलों के 6260 गांवों को लाल-डोरा मुक्त करने के लिए ड्रोन से 3-टियर मैपिंग पूरी कर ली गई है। इनमें 2514500 प्रॉपर्टी आईडी बना दी गई हैं और 2394000 प्रॉपर्टी आईडी को पूरी तरह से लाल-डोरा मुक्त कर उनके असली मालिकों को दे दिया गया है और उनसे क्लेम एवं आपत्तियां मांगी गई हैं। शेष पांच प्रतिशत आईडी का कार्य भी अगले दो-तीन माह में पूरा कर लिया जाएगा। डिप्टी सीएम ने बताया कि आगामी 31 दिसंबर 2023 तक पूरे राज्य को लाल-डोरा मुक्त कर दिया जाएगा और इस तरह ऐसा करने वाला हरियाणा देश का पहला राज्य होगा। उन्होंने कहा कि मार्च 2024 तक लार्ज स्केल मैपिंग का कार्य पूरा करने का लक्ष्य रखा है। उन्होंने बताया कि पहाड़ी क्षेत्र की सही मैपिंग के लिए रोवर्स भी खरीदे जा रहे हैं ताकि पहाड़ी क्षेत्र के 73 गांवों की भी मैपिंग सही ढंग से की जा सके। जिस प्रकार से जिला स्तर पर रिकार्ड-रूम का डिज़िटलीकरण किया गया है उसी प्रकार से पटवारखाना, उप तहसील, तहसील और कमीशनरेट कार्यालयों का रिकार्ड भी 31 दिसम्बर 2023 तक डिजिटलाइज कर दिया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *