June 20, 2024

श्रीआनंदपुर साहब-मनीषा राणा की 12 अनाज मंडियों में गेहूं की निर्बाध खरीद व भुगतान जारी है

1 min read

किसानों को पराली न जलाने के लिए जागरूक किया जा रहा है सचिव मार्केट कमेटी प्रशासन के अधिकारी लगातार खरीद व्यवस्था की निगरानी कर रहे हैं

राज घई, कीरतपुर साहिब , श्री आनंदपुर साहिब अनुमंडल की 12 अनाज मंडियों में आवक हुई 21420 मीट्रिक टन गेहूं में से 15827 मीट्रिक टन गेहूं का उठाव हो चुका है और मंडियों से गेहूं संग्रहण का कार्य भी जोरों पर चल रहा है। कीरतपुर साहिब अनाज मंडी में अब तक 2563 मीट्रिक टन गेहूं की आवक हो चुकी है, जिसमें से 2500 मीट्रिक टन गेहूं की वसूली हो चुकी है। यह जानकारी देते हुए आईएएस अनुविभागीय दंडाधिकारी आनंदपुर साहिब मनीषा राणा ने बताया कि श्री आनंदपुर साहिब के अंतर्गत आने वाली सभी 12 अनाज मंडियों में खरीदी गई फसल का समय पर उठान सुनिश्चित किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि मंडियों में किसानों को किसी तरह की परेशानी नहीं होगी और गेहूं का एक दाना खरीदा जा रहा है। क्षेत्र के विधायक व पंजाब सरकार के कैबिनेट मंत्री हरजोत सिंह बैंस व उपायुक्त रूपनगर डॉ. प्रीति यादव आई.ए.एस. अनाज मंडियों में किसानों की सुविधा के लिए की गई व्यवस्था और जिंस की आवक, उठाव और भुगतान की लगातार निगरानी कर रहे हैं। मार्केट कमेटी श्री आनंदपुर साहिब के सचिव सुरिंदर पाल ने किसानों से अपील करते हुए कहा कि बिना अनाज या कचरे को जलाए खेतों में ही प्रबंधन करें। उन्होंने कहा कि फसल अवशेषों में आग लगाने से जहां पर्यावरण में प्रदूषण फैलता है वहीं भूमि की उर्वरता कम होने के साथ ही भूमि में रहने वाले मित्र कीट भी मर जाते हैं। किसान मंडियों में सुखाते हैं मार्केट कमेटी श्री आनंदपुर साहिब के सचिव सुरिंदर पाल ने किसानों से अपील करते हुए कहा कि बिना अनाज या कचरे को जलाए खेतों में ही प्रबंधन करें। उन्होंने कहा कि फसल अवशेषों में आग लगाने से जहां पर्यावरण में प्रदूषण फैलता है वहीं भूमि की उर्वरता कम होने के साथ ही भूमि में रहने वाले मित्र कीट भी मर जाते हैं। उन्होंने किसानों से अपील की कि वे सूखी फसल को मंडियों में लेकर आएं। गौरतलब है कि उपमंडल की सभी 12 अनाज मंडियों में खरीद शुरू होने से पहले किसानों की सुविधा के लिए सुचारू व्यवस्था की गई है।अनाज मंडियों में रोशनी, स्वच्छ पेयजल, साफ-सफाई, शौचालय, छाया और तिरपाल की पर्याप्त व्यवस्था की गई है। उन्होंने कहा कि खरीद एजेंसियों और आरती के बीच पूरा समन्वय है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *