June 19, 2024

23 विधानसभा हलकों में पहले, 6 में दूसरे नंबर पर रही पार्टी

इन चुनौतियों के बावजूद मत प्रतिशत बढ़ाया
भाजपा के सामने सबसे बड़ी चुनौती रहा किसानों का विरोध। किसानों ने कई लोकसभा हलकों में भाजपा प्रत्याशियों का विरोध किया। इस कारण चुनाव प्रचार में दिक्कत आई लेकिन भाजपाइयों ने प्रचार जारी रखा। पार्टी के सामने दूसरी चुनौती थी बिना गठबंधन के पंजाब में पहली बार लोकसभा चुनाव लडऩा। भाजपा हमेशा शिअद के साथ गठबंधन करके पंजाब में चुनाव लड़ती रही है लेकिन 2024 में पहली बार बिना गठबंधन के पार्टी ने 13 सीटों पर चुनाव लड़ा। इन चुनौतियों के बावजूद पार्टी शिअद से पांच प्रतिशत अधिक मत हासिल करके प्रदेश में तीसरे स्थान पर रही। 

विधानसभा चुनाव 2027 में पार्टी कर सकती है शानदार प्रदर्शन
पंजाब की 117 विधानसभा सीटें हैं और बहुमत का आंकड़ा 59 सीटों का है। अगर लोकसभा चुनाव में विधानसभा क्षेत्रों के मत प्रतिशत की बात करें तो 29 विधानसभा क्षेत्रों में पार्टी ने शानदार प्रदर्शन किया। अब इतनी ही विधानसभा सीटों पर पार्टी कड़ी मेहनत बरकरार रखे तो आसानी से बहुमत के आंकड़े के करीब पहुंच सकती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *