June 20, 2024

दहेज की मांग पर बारात आने से पहले दुल्हन ने ठुकराया रिश्ता

1 min read

शिवालिक पत्रिका, अजय कुमार बंगाणा बुधवार शाम को हमीरपुर जिले के गलोड़ क्षेत्र से उपमंडल बंगाणा में बारात आनी थी। लड़की पक्ष की ओर से बरात के स्वागत की तैयारियां जोरों पर चल रही थी। गांव वासियों व रिश्तेदारों को धाम खिलाई जा रही थी। लड़की पक्ष के सभी रिश्तेदार उनके घर पर शादी में शरीक होने के लिए पहुंच चुके थे। लेकिन एकाएक शादी के खुशनुमा माहौल में अफरा तफरी मच गई जब दूल्हा पक्ष के लोगों ने लड़की के परिजनों से दहेज के एवज में गाड़ी, धनराशि व सोने के गहनों की मांग रख दी। इस घटना से दुल्हन पक्ष के लोग एकदम सकते में आ गए लेकिन अधिवक्ता लड़की ने होंसला दिखाते हुए दहेज लोभियों दूल्हा पक्ष के लोगों को शादी करने से इनकार कर दिया। लड़की एक अधिवक्ता हैं व उसने बड़ी सूझबूझ से यह फैसला लिया। हालांकि इस घटना में लड़की पक्ष के लोगों को बहुत आर्थिक नुकसान व सम्मान का नुकसान पहुंचा है। लेकिन अधिवक्ता लड़की के इस फैसले की क्षेत्र में चारों ओर सराहना की जा रही है। लोग चर्चा कर रहे हैं कि समाज के प्रत्येक वर्ग के लोगों को अपनी बेटियों को पढ़ा लिखा कर इस काबिल बनाना होगा कि वे एडवोकेट लड़की की तरह कठोर फैसले लेने में सक्षम हो सकें। लड़की के परिजनों के मुताबिक दूल्हा पक्ष के लोग 19 फरवरी को उनके घर आए थे व लड़की को चुन्नी आदि चढ़ाने की रस्में पूरी की थी व 21 फरवरी को लड़की पक्ष के लोग लड़के के घर गए थे व शगुन की रस्में पूरी की थी। हमीरपुर के गलोड़ क्षेत्र का यह दूल्हा विदेश में रहता है। लड़की के परिजनों का आरोप है कि शादी वाले दिन दहेज की मांग करके दूल्हा पक्ष के लोगों ने उन्हें कहीं का नहीं छोड़ा है। लड़की पक्ष की ओर से लड़की के भाई ने इस संबंध में पुलिस थाना बंगाणा में शिकायत दर्ज करवा दी है कि लड़के के माता-पिता की ओर से शादी वाले दिन उनसे गाड़ी, धनराशि व सोने के आभूषणों की मांग की गई। अगर उनकी यह मांग पूरी नहीं हो पाती है तो वह बरात लेकर दुल्हन को ले जाने नहीं आएंगे। लड़की के परिजनों ने पुलिस व प्रशासन से उनका मानसिक उत्पीड़न होने व शादी पर 20 लाख रुपए का खर्च होने की भरपाई की मांग की है। इस संबंध में थाना प्रभारी बाबूराम मंडयाल ने बताया कि दहेज की मांग करने के संबंध में लड़की के भाई की ओर से शिकायत की गई है। मामले की गहनता से जांच की जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *