June 15, 2024

हीट वेव के बचाव के लिए लग रहे मीठे व शीतल पेयजल शिविर राहगीरों की बुझा रहे प्यास

1 min read

डीसी मोनिका गुप्ता के आह्वान पर जिला रेडक्रास सोसायटी सहित विभिन्न सामाजिक संगठन लगा रहे प्याऊ

जीव-जंतुओं की सेवा ही सबसे बड़ी सेवा : उपायुक्त मोनिका गुप्ता

नारनौल, 3 मई। उपायुक्त मोनिका गुप्ता (आईएएस) के आह्वान पर जिला में जिला रेडक्रास सोसायटी व कई समाजिक संगठन हीट वेव को देखते हुए मीठे व शीतल पेयजल शिविर व प्याऊ लगा रहे हैं। ये प्याऊ भीषण गर्मी में राहगीरों की प्यास बुझा रहे हैं। इससे राहगीरों को काफी राहत मिली है।
डीसी मोनिका गुप्ता आईएएस ने जिला के नागरिकों से आह्वान किया है कि वे और अधिक संख्या में प्याऊ लगाएं। साथ ही पशुओं व पक्षियों के लिए भी पानी की खेल भरें ताकि इस मौसम में उन्हें भी कुछ राहत मिल सके। उन्होंने कहा कि जीव-जंतुओं की सेवा ही सबसे बड़ी सेवा होती है।
इसी कड़ी में शहर नारनौल में भी दस से अधिक प्याऊ विभिन्न संगठनों की ओर से लगाई जा रही हैैं। जयपुर हार्ट अस्पताल की ओर से भी आज रेलवे रोड पर एक मीठे व शीतल पेयजल शिविर शुरू किया गया है। यह शिविर रेलवे स्टेशन की तरफ आने वाले राहगीरों को काफी राहत दे रहा है।
उन्होंने आम नागरिकों से आह्वान किया है कि वे जरुरत पड़ने पर ही घर से बाहर निकलें। अपने साथ पानी की बोतल साथ रखें। दिन में बार-बार पानी पिएं। नींबू पानी जरुर पीएं। वहीं लस्सी का भी प्रयोग करें। जब भी घर से बाहर निकलें तब अपने सिर पर कपड़ा रखकर निकलें ताकि सीधे सूरज की रोशनी सिर पर ना पड़े। साथ ही उन्होंने जरुरत अनुसार ओआरएस इस्तेमाल करने को भी कहा।
उन्होंने कहा कि शरीर में पानी की कमी करने वाले चाय, कॉफी और कार्बोनेटेड शीतल पेय जैसे पदार्थों के सेवन से बचना चाहिए। उच्च प्रोटीन युक्त व बासी भोजन न खाएं। कमजोरी, चक्कर आना, सिर दर्द, दौरे जैसे हीट स्ट्रोक के संकेतों को पहचानें। यदि आप बीमार महसूस करें तो तुरंत डॉक्टर को दिखाएं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *