June 15, 2024

12.50 करोड़ से बन रहा सिविल अस्पताल शाहपुर, डीसी और विधायक ने लिया प्रगति का जायजा

शिवालिक पत्रिका, धर्मशाला उपायुक्त डॉ. निपुण जिंदल ने शाहपुर विधानसभा क्षेत्र में विभिन्न विकास कार्यों की प्रगति का जायजा लिया। इस मौके विधायक केवल सिंह पठानिया भी उनके साथ उपस्थित रहे। डीसी और विधायक ने सिविल अस्पताल शाहपुर में स्वास्थ्य सुविधाएं जांचने के साथ साथ 12.50 करोड़ रुपये से बन रहे अस्पताल के नए भवन का निरीक्षण किया।

*जमीनी स्तर पर व्यवस्थाओं को किया जा रहा और मजबूत*

डॉ. निपुण जिंदल ने अधिकारियों को सिविल अस्पताल शाहपुर के निर्माणाधीन भवन के कार्य को तय समयावधि में पूरा करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि ये काम आम नागरिकों से सीधे तौर पर जुड़े हैं, इनमें गुणवत्ता कर पूरा ध्यान रखें। उपायुक्त ने कहा कि प्रदेश सरकार के निर्देशानुरूप जिला प्रशासन सभी विकास कार्यों को गति देने के साथ साथ नई परियोजनाओं की संभावनाओं पर काम कर रहा है। जमीनी स्तर पर व्यवस्थाओं को और मजबूत किया जा रहा है ताकि जनता को विभिन्न सेवाएं सुलभता से मिलें। इस मौके केवल पठानिया ने कहा कि शाहपुर क्षेत्र में स्वास्थ्य संस्थानों की मजबूती और बेहतर सेवाओं के लिए योजनाबद्ध तरीके से काम किया जा रहा है। मुख्यमंत्री श्री सुखविंदर सिंह सुक्खू का इस पर जोर है कि प्रदेश में स्वास्थ्य क्षेत्र में ढांचागत सुधार किया जाए ताकि लोगों को घर द्वार के समीप अच्छी स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध हों ।

*शाहपुर में 1.70 करोड़ से बनेगा पशु चिकित्सालय भवन*

इसके अलावा डीसी और विधायक ने शाहपुर में पशु चिकित्सालय के सुदृढ़ीकरण को लेकर विभागीय अधिकारियों तथा फील्ड स्टाफ के साथ समीक्षा बैठक की। डॉ. निपुण जिंदल ने कहा कि लोगों को बेहतर स्वास्थ्य सेवाएं मुहैया कराने के साथ साथ क्षेत्र के किसानों के मवेशियों की स्वास्थ्य देखभाल के लिए भी व्यवस्थाएं मजबूत की जा रही हैं, ताकि पशु पालकों को सहूलियत हो। वहीं, केवल पठानिया ने कहा कि पशु चिकित्सालय शाहपुर के भवन निर्माण पर 1.70 करोड़ रुपये व्यय किए जाएंगे। इसकी डीपीआर बना कर मामला स्वीकृति के लिए भेजा गया है। जल्द ही भवन का शिलान्यास किया जाएगा।

*शाहपुर में खोला जाएगा ‘मिल्क कलेक्शन सेंटर’*

केवल सिंह पठानिया ने कहा कि जल्द ही शाहपुर में ‘मिल्क कलेक्शन सेंटर’ भी खोला जाएगा, ताकि यहां के पशुपालकों को अपने उत्पाद, दूध, खोया और पनीर बेचने में आसानी रहे। अभी उन्हें इसके लिए दूसरी जगह जाना पड़ता है। ‘मिल्क कलेक्शन सेंटर’ से स्थानीय स्तर पर रोजगार के अवसर भी बढ़ेंगे। इस मौके एडीएम रोहित राठौर, शाहपुर के एसडीएम डॉ. मुरारी लाल, बीएमओ डॉ. हरिंदरपाल सिंह सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *