July 14, 2024

न्यूनतम समर्थन मूल्य भुगतान ने पिछले सारे रिकार्ड तोड़े, अब तक जारी किए गए 18366 करोड़ रुपये : कटारूचक्क

शिवालिक पत्रिका, चंडीगढ़, प्रदेश भर की मंडियों में गेहूं की आमद 105 लाख मीट्रिक टन को पार कर गई है और पिछले साल के पूरे सीजन में 102.7 लाख मीट्रिक टन गेहूं की आमद के आंकड़े को पछाड दिया है।इसके इलावा  सरकारी एजेंसियों द्वारा पहले ही 100 लाख मीट्रिक टन से अधिक गेहूं की खरीद की जा चुकी है। जोकि पिछले साल के सीजन दौरान सरकारी खरीद एजेंसियों की कुल 96.45 लाख मीट्रिक टन की खरीद को पछाड गई है। इस संबंध में जानकारी देते हुए खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले मंत्री लाल चंद कटारुचक्क ने बताया कि आज मंडियों में 4.5 लाख मीट्रिक टन गेहूं की आमद हुई है और पिछले सीजन की तुलना में कुल खरीद कम से कम 20 लाख मीट्रिक टन अधिक होगी। मंत्री ने आगे कहा कि राज्य के मेहनती किसानों ने एक बार फिर दिखा दिया है कि पंजाब देश के अनाज भंडार को भरने में अग्रणी है क्योंकि इस साल पंजाब केंद्रीय अनाज भंडार में 50 प्रतिशत से अधिक गेहूं का योगदान देने के लिए तैयार है। न्यूनतम समर्थन मूल्य पर किसानों को भुगतान के संबंध में संतोष व्यक्त करते हुए मंत्री ने कहा कि पिछडे साल के सारे रिकार्ड पार करते हुए 5,72,822 किसानों को न्यूनतम समर्थन मूल्य पर 18366 करोड़ रुपये जारी किए जा चुके है और यह सुनिश्चित किया जा रहा है कि किसानों को खरीद के 48 घंटे के भीतर अदायगी की जाए। मंत्री ने आगे बताया कि मुख्यमंत्री भगवंत मान के निर्देशों पर कार्यवाही करते हुए गेहूं की खरीद में पूरी पारदर्शिता सुनिश्चित की जा रही है। गेहूं खरीद सीजन के दौरान राज्य में व्हीकल ट्रैकिंग सिस्टम (वीटीएस) लागू किया गया है और अब तक वी.टी.एस सिस्टम के साथ स्थापित वाहनों की संख्या 30000 से अधिक हो गई है और अब तक वीटीएस के माध्यम से 202250 से अधिक ऑनलाइन गेट पास जारी किए जा चुके है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *