June 15, 2024

पंचायती राज संस्थाओं को सक्षम रूप से आगे बढ़ाने के लिए सदस्यों को पंचायती राज कानून की जानकारी होना आवश्यक : जगत सिंह नेगी

1 min read

शिवालिक पत्रिका, राजस्व,बागवानी एवं जनजातीय विकास मंत्री जगत सिंह नेगी ने कहा कि पंचायती राज संस्थाओं को सक्षम रूप से आगे बढ़ाने के लिए सदस्यों को पंचायती राज कानून की जानकारी होना आवश्यक है ताकि वह हर कार्य को करवा सकें। कैबिनेट मंत्री जिला किन्नौर के निचार खण्ड में पंचायती राज उत्सव की अध्यक्षता कर रहेथे। इस अवसर पर उन्होंने स्वयं सहायता समूह द्वारा लगाई गई प्रदर्शनी का भी अवलोकनकिया। उन्होंने कहा कि भारत एकमात्र ऐसा देश है जहां पंचायती राज संस्थाएं हैं। उन्होंने कहा कि जब भारत अंग्रेजों का गुलाम था तब भी देश में पंचायतें थी जो लोगों की समस्याओं का निवारण करती थी। उन्होंने कहा कि महात्मा गांधी ने कहा था कि गांव की तरक्की के लिए पंचायतों की तरक्की जरूरी है और देश में जब-जब कांग्रेस की सरकार आई इस दिशा में कार्य हुआ। उन्होंने कहा कि 1992 में कानून बनाया गया जिसके तहत हर 5 वर्ष के बाद पंचायतों के चुनाव कराना अनिवार्य किया गया। इसके अतिरिक्त वार्ड मेंबर से लेकर जिला परिषद तक के पदों पर आरक्षण भी लागू किया गया जो आज के समय में 50 प्रतिशत तक पहुंच चुका है। कैबिनेटमंत्री ने कार्यक्रम के सफल आयोजन के लिए निचार खण्ड की सभी पंचायतों को बधाई देते हुए कहा कि पहली बार इस प्रकार के कार्यक्रम का आयोजन किया गया है जो बेहद प्रशंसनीय है और उन्होंने पूह और कल्पा खण्ड को भी इस प्रकार के कार्यक्रम आयोजित करने का सुझाव दिया। उन्होंने निचार खण्ड को विभिन्न उपलब्धियों के लिए भी बधाई दी। उन्होंने कहा कि चुने हुए प्रतिनिधियों के पास अब केवल 3 साल बचे हैं इसलिए मिलकर कार्य करना होगा तभी हर गांव का विकास सुनिश्चित होगा। उन्होंने कहा कि जनप्रतिनिधि किसी भी कार्य में आ रही समस्या के समाधान के लिए उन्हें कभी भी सम्पर्क कर सकते हैं।

उन्होंने कहा कि मनरेगा योजना 2006 में कांग्रेस सरकार द्वारा आरंभ की गई थी जिसमें मांग के आधार पर कार्य होता है और 120 दिन का काम लोगों को मिलता है। उन्होंने कहा कि यह पंचायती राज संस्थाओं की जिम्मेवारी है कि लोगों को इस योजना के तहत कार्य मिले। उन्होंने कहा कि इस योजना का पूर्ण लाभ तभी मिलेगा जब जनप्रतिनिधि तकनीकी अडचनों को पार करना सिखेंगे। उन्होंने कहा कि पंचायती राज संस्थाओं में स्टाफ की कमी है जिसको पूरा करने के लिए वह सरकार के स्तर पर प्रयास करेंगे।कैबिनेटमंत्री ने कहा कि आज देश में 700 एकलव्य विद्यालय क्रियाशील हैं और एक ऐसा विद्यालय निचार में भी है जहां बच्चों को निःशुल्क पढाई के साथ रहने और खाने पीने की भी सुविधा निःशुल्क उपलब्ध है। उन्होंने कहा कि एकलव्य विद्यालय पूह और कल्पा खण्ड में खोलने के प्रयास किए जाएंगे।

उन्होंने बताया कि ज्यूरी से भाबानगर सड़क की मुरम्मत 75 करोड़ रुपए से होगी जिसके लिए निविदा प्रक्रिया कर दी गई है। इसके अतिरिक्त, निचार के जातरू मेला को फिर से शुरू कियाजाएगा। जगत सिंह नेगी ने कहा कि निचार खण्ड के तहत एक सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र है जिसके उन्नयन के लिए भी प्रयास किए जाएंगे और ऑपरेशन की सुविधा यहां उपलब्ध कराई जाएगी ताकि लोगों को दूर न जाना पडे। इसके अतिरिक्त, दिल्ली पब्लिक स्कूल माध्यमिक स्कूल बनाने के लिए एसजेवीएन के साथ इस मांग को उठाया जाएगा।

इससे पूर्व सहायक आयुक्त विकास कुलवंत सिंह पोटन ने बताया कि निचार खण्ड के जनप्रतिनिधियों के सहयोग से पिछले कुछ माह में विकास कार्यो को गति मिली है। उन्होंने बताया कि खण्ड में 15वें वित्त आयोग के तहत लगभग 4 करोड़ रुपए के विकास कार्य हुए हैं।उन्होंने बताया कि निचार खण्ड दुधारू पशुओं के सर्वे में प्रथम रहा है और अंत्योदय मिशन का सर्वे केवल 3 दिन में पूरा किया गया है। इसी प्रकार निचार खण्ड के तहत आधार सीडिंग का कार्य लगभग 97 प्रतिशत पूर्ण किया जा चुका है जोकि प्रदेश में सर्वाधिक है। इस अवसर पर तरण्डा, याश्ंग, रामणी, सुंगरा, काशपो, विकास नगर, थाच, उरनी, पानवी वयंगपा के महिला मण्डल एवं स्वयं सहायता समूह द्वारा विभिन्न प्रस्तुतियां दी गई।

इन्हें किया सम्मानित

उन्होंने 21 फरवरी 2023 को सुंगरा में हुए अग्निकांड में दो बच्चों को बचाकर सुरक्षित निकालने के लिए जगदीश को भी सम्मानित किया और अपनी ऐच्छिक निधि से 50 हजार रुपए देने की घोषणा की। कार्यक्रम में निचार खण्ड की 22 पंचायतों के प्रधान व उप-प्रधानों को मुख्य अतिथि द्वारा बेहतर प्रदर्शन और कार्यक्रम के आयोजन के लिए स्मृति चिन्ह भेंट कर सम्मानित किया गया।इसके अतिरिक्त, पंचायत सचिव ग्राम पंचायत युला बालकृष्ण, पंचायत सचिव ग्राम पंचायत नाथपा सत्या देवी व पंचायत सचिव ग्राम पंचायत पौण्डा मनोज कुमार, ग्राम रोजगार सेवक जया भादुरी व लक्ष्मी देवी और तकनिकि सहायक रितेश नेगी व विनोद को भी सम्मानितकिया। कैबिनेट मंत्री ने ग्राम पंचायत पांगी की सचीव विना देवी को ग्राम पंचायत में पिछले 6 माह में सर्वाधिक सुधार के लिए को सम्मानित किया।

इस अवसर पर अध्यक्ष जिला परिषद निहाल चारस, उपाध्यक्ष प्रिया नेगी, अध्यक्ष जिला कांग्रेस कमेटी उमेश नेगी, मुख्य चिकित्सा अधिकारी सोनम नेगी, तहसीलदार चंद्र मोहन ठाकुर, डीएसपी नरेश शर्मा सहित अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *