June 15, 2024

पंजाब में नौजवानों को अब तक 29000 से अधिक सरकारी नौकरियाँ दीं, अन्य पदों पर भर्ती जारी :मुख्यमंत्री

1 min read

‘सरकार तुहाडे द्वार’ प्रोग्राम के अंतर्गत हफ़्ते में दो बार गाँवों के दौरे करेंगे डिप्टी कमिशनर
शिवालिक पत्रिका, चंडीगढ़,
राज्य के नौजवानों को सरकारी नौकरियां देने के लिए शुरू की व्यापक मुहिम की सफलता का ज़िक्र करते हुए पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने कहा कि मार्च, 2022 से अब तक नौजवानों को 29000 से अधिक सरकारी नौकरियाँ दीं हैं और अलग-अलग विभागों की भर्ती प्रक्रिया चल रही है। सैक्टर-35 में म्यूंसिपल भवन में स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण, मेडिकल शिक्षा एवं अनुसंधान और सहकारिता विभाग के नये चुने 200 उम्मीदवारों को नियुक्ति पत्र सौंपने के मौके पर अपने संबोधन में मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारी सरकार ने नौजवानों को रोज़गार देने की गारंटी दी थी और यह बहुत संतोषजनक बात है कि अब तक 29000 से अधिक सरकारी नौकरियाँ दीं जा चुकीं हैं जबकि पिछली सरकार के समय पढ़े-लिखे नौजवान बेरोजगारी का दुख भोगते थे। मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘इस म्यूंसिपल भवन में मैं हफ़्ते में दो बार नौजवानों को नियुक्ति पत्र सौंपने के लिए आता हूं जिस कारण इस म्यूंसिपल भवन को ‘नियुक्ति भवन’ भी कहा जा सकता है। उन्होंने कहा कि अलग-अलग विभागों में भर्ती चल रही है जिससे और नौजवानों को भी जल्दी ही नियुक्ति पत्र सौंपे जाएंगे।’’ नये चुने उम्मीदवारों को सरकार के परिवार का हिस्सा बनने के लिए बधाई देते हुए मुख्यमंत्री ने उनको अपनी ड्यूटी तन-मन और लगन के साथ निभाने के लिए कहा जिससे कामकाज के लिए उम्मीदों के साथ उनके पास आने वाले लोगों को किसी किस्म की परेशानी का सामना न करना पड़े। नौजवानों को क्रमवार नियुक्ति पत्र सौंपने का ज़िक्र करते हुए भगवंत मान ने कहा कि समूची भर्ती प्रक्रिया केवल मेरिट, निष्पक्षता और पारदर्शी ढंग से पूरी की जा रही है जिससे किसी तरह की कानूनी रुकावट न आए। मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘मुझे यह बताते हुये ख़ुशी हो रही है कि हमने अब तक 29000 सरकारी नौकरियाँ दीं हैं और अभी तक एक भी नौकरी के लिए किसी तरह की अदालती चुनौती का सामना नहीं करना पड़ा।’’ मुख्यमंत्री ने कहा कि नौजवानों की तरफ से नौकरियों के अधिक मौके देने की मुहिम को बड़ा समर्थन दिया गया है। एक मिसाल देते हुए मुख्यमंत्री ने बताया कि एक नौजवान पहले क्लर्क भर्ती हुआ, उसके बाद मेहनत करके ऐसिस्टैंट लाईनमैन बना और उसके बाद एस. डी. ओ. नियुक्त हुआ है। स्वास्थ्य क्षेत्र में बुनियादी ढांचे को और मज़बूत करने की वचनबद्धता को दोहराते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि अस्पतालों और अन्य स्वास्थ्य संस्थाओं में स्टाफ बहुत काबिल है परन्तु अपेक्षित साजो-सामान न होने के कारण लोगों को स्वास्थ्य सहूलतें नहीं मिल रही थीं परन्तु अब सरकार द्वारा स्वास्थ्य क्षेत्र को प्रमुखता दी जा रही है। ‘सरकार तुहाडे द्वार’ प्रोग्राम को पंजाब भर में लागू करने का ऐलान करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि अब हफ़्ते में दो बार डिप्टी कमिशनर और अन्य स्टाफ गाँवों के दौरे करके लोगों की समस्याओं का मौके पर निपटारा करेंगे। उन्होंने कहा कि सरकार ने जिलों में पायलट प्रोजैक्ट के तौर पर इसको लागू किया था और इसकी सफलता के बाद अब व्यापक स्तर पर लागू किया जा रहा है। मुख्यमंत्री ने कहा कि इस प्रोग्राम से लोगों और सरकार के दरमियान फर्क ख़त्म होगा जबकि इससे पहले लोगों को कामकाज के लिए ज़िला दफ़्तरों या चंडीगढ़ के दफ़्तरों में परेशान होना पड़ता था। लोगों तक सीधी पहुँच कायम करने के लिए एक और मिसाल देते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि पहली बार उनकी सरकार ने विधान सभा सैशन का सीधा प्रसारण करने का ऐतिहासिक कदम उठाया जिससे सारी राजनैतिक पार्टियों की कारगुज़ारी को लोग अपने आंखों से देख सकें। इस मौके पर स्वास्थ्य मंत्री डाक्टर बलबीर सिंह ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग में बुनियादी ढांचे को मज़बूत करने के साथ-साथ डाक्टर, नर्सें और अन्य पैरा-मेडिकल स्टाफ की भर्ती की जायेगी जिससे लोगों को मानक स्वास्थ्य सेवाएं मुहैया करवाई जा सकें। स्वास्थ्य मंत्री ने नये भर्ती हुए उम्मीदवारों को पंजाब को ‘रंगला राज्य’ बनाने के सपने को साकार करने के लिए इसके ‘ब्रैड अम्बैसडर’ बनने का न्योता दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *