July 14, 2024

मानसिक रोगियों के अधिकारों के सरंक्षण पर कार्यशाला आयोजित

1 min read

शिवालिक पत्रिका, मंडी, जिला मंडी के सभी स्वास्थ्य खंड, उपमंडलीय अस्पतालों के खंड चिकित्सा अधिकारीयों, सभी पुलिस थाना प्रभारी एवम् उपमंडलीय पुलिस अधिकारियों के लिये हिमाचल प्रदेश राज्य मानसिक स्वास्थ्य प्राधिकरण के तत्वावधान में एमएचसीए-2017 के प्रावधानों के प्रभावी कार्यान्वयन हेतू एक दिवसीय प्रशिक्षण कार्यशाला का आयोजन मुख्य चिकित्सा अधिकारी जिला मंडी के सभागार में किया गया। इस कार्यशाला का शुभारंभ डीआईजी मध्य क्षेत्र श्री मधूसुदन शर्मा ने दीप प्रज्वलित कर किया तथा पुलिस अधिक्षक शालिनी अग्निहोत्री विशेष अतिथि के रूप में इस कार्य शाला में मौजूद रहीं। इस प्रशिक्षण कार्यशाला के विशेष स्त्रोत व्यक्ति डॉ. संजय पाठक मुख्य कार्यकारी अधिकारी मानसिक स्वास्थ्य अधिनियम प्राधिकरण हिमाचल प्रदेश ने उपस्थित प्रतिभागियों को इस एक्ट के नये प्रावधानों व मानसिक रोगियों को मनोविज्ञानिक, समाजिक व स्वास्थ्य सेवायें सुनिश्चित करने पर जोर देते हुए कहा कि मानसिक रोगी हमारे लिये एक महत्वपूर्ण लाभार्थी हैं तथा इनके अधिकारों का सरंक्षण हर हाल में होना चाहिए। डाॅ विशाल ठाकुर ने आत्महत्या बचाब के बारे में जानकारी दी। डॉ अनिता ठाकुर ने मादक पदार्थों के सेवन से होने वाले व्यसन के प्रबन्धन की जानकारी प्रदान की और डॉ दुश्यन्त ठाकुर ने मानसिक बीमारी के दौरान सामाजिक भेदभाव व कलंक को कम करने में हमारी भूमिका के बारे जानकारी दी।

इस प्रशिक्षण कार्यशाला में मुख्य चिकित्सा अधिकारी मंडी डॉ देवेन्द्र शर्मा, क्षेत्रीय अस्पताल मंडी के चिकित्सा अधिक्षक डॉ. डी. एस. वर्मा, सभी कार्यक्रम अधिकारी व जन शिक्षा एवम् सुचना अधिकारी मंडी राकेश यादव व सभी स्वास्थ्य खंड चिकित्सा अधिकारी व पुलिस अधिकारियों ने भाग लिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *