July 22, 2024

उपायुक्त ने राजस्व अधिकारियों को बकाया राजस्व मामलों के समयबद्ध निपटारे के दिए निर्देश

1 min read

कहा राजस्व मामलों के निपटारे में देरी मंजूर नहीं

मंडी, 15 जून। उपायुक्त अपूर्व देवगन ने राजस्व अधिकारियों को बकाया राजस्व मामलों के समयबद्ध निपटारे के निर्देश दिए हैं। उपायुक्त ने राजस्व अधिकारियों की समीक्षा बैठक में कहा कि राजस्व मामलों के निपटारे में देरी मंजूर नहीं है। उन्होंने कहा कि ऐसे मामले जिनका समाधान हो सकता है उनका त्वरित निपटारा करें। राजस्व के कार्य आम जनता के हितों से जुड़े हुए महत्वपूर्ण कार्य होते हैं। अधिकारी राजस्व मामलों को बिना किसी कारण लटकाएं नहीं बल्कि इनकोे निपटाने के लिए जिम्मेदारी से गंभीरतापूर्वक कार्य करें। बैठक में जिला मंडी के सभी एसडीएम, तहसीलदार और नायब तहसीलदार उपस्थित थे।
उपायुक्त ने इस दौरान तहसील और उप तहसील स्तर पर तहसीलदारों और नायब तहसीलदारों द्वारा अतिक्रमण, निशानदेही, तकसीम हुक्मी और खानगी के मामलों को निपटाने की प्रगति की जानकारी ली। जिन अधिकारियों की रिपोर्ट संतोषजनक नहीं पाई गई उन्हें सख्त चेतावनी देते हुए आने वाली समीक्षा बैठक तक इन मामलों में सुधार करने के निर्देश दिए और जिन राजस्व अधिकारियों ने चुनावी डयूटी करने के साथ-साथ राजस्व मामलों को निपटाने में उत्कृष्ट कार्य किया उनकी पीठ थपथपाई।
उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार का फोकस राजस्व मामलों के समयबद्ध निपटारे पर है। इसके लिए हर महीने राजस्व अदालतें लगाई जा रही है। उन्होंने कहा कि सभी अधिकारी रणनीति बनाकर राजस्व मामलों का निपटारा करें। विशेषकर छह महीने के उपर के मामलों को निपटाने में सर्वोच्च प्राथमिकता दें। उन्होंने सभी उपमंडल अधिकारियों को अधीनस्थ तहसीलदारों और नायब तहसीलदारों के कार्यों की अच्छी तरह से मॉनिटरिंग करने के निर्देश दिए। बैठक का संचालन एडीएम डॉ मदन कुमार ने किया। इस अवसर पर जिला राजस्व अधिकारी भी उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *