June 19, 2024

जिम्पा द्वारा फसलों के नुकसान की रिपोर्ट पक्षपात रहित और बिना सिफ़ारिश जल्द भेजने के निर्देश

1 min read

राजस्व मंत्री द्वारा उच्च अधिकारियों के साथ समीक्षा मीटिंग

शिवालिक पत्रिका,
चंडीगढ़, पंजाब के राजस्व, पुनर्वास और आपदा प्रबंधन मंत्री ब्रम शंकर जिम्पा ने निर्देश दिए हैं कि बेमौसमी बारिश के कारण राज्य में फसलों के नुकसान की रिपोर्ट जल्द से जल्द बिना पक्षपात और सिफ़ारिश रहित भेजी जाये। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री भगवंत मान पहले ही कह चुके हैं कि वैसाखी के नज़दीक किसानों को मुआवज़ें बाँटना शुरू कर दिया जायेगा। राजस्व विभाग के उच्च अधिकारियों की तरफ से जिम्पा को बताया गया कि नुकसान की रिपोर्टें भेजने संबंधी सभी डिप्टी कमिश्नरों को पहले ही पत्र जारी किये जा चुके हैं। पंजाब सिवल सचिवालय में राजस्व विभाग के उच्च अधिकारियों के साथ एक समीक्षा मीटिंग की अध्यक्षता करते हुये ब्रम शंकर जिम्पा ने कहा कि राज्य की सभी तहसीलों और सब-तहसीलों की कार्यशैली को और पारदर्शी करने और सुधार लाने के लिए सख़्त कदम उठाने की ज़रूरत है। उन्होंने कहा कि आम लोगों की परेशानी बिल्कुल बर्दाश्त नहीं की जायेगी और मुख्यमंत्री भगवंत मान की तरफ से जारी हिदायतों अनुसार किसी भी रिश्वतख़ोर अधिकारी/कर्मचारी के खि़लाफ़ सख़्त एक्शन लिया जाये। उन्होंने कहा कि जल सप्लाई और सेनिटेशन विभाग की तर्ज़ पर राजस्व विभाग में भी जनता दरबार लगाया जायेगा जिसमें आम लोगों की समस्याएँ सुन कर मौके पर ही निपटारा किया जायेगा। उन्होंने कहा कि जिन लोगों को जान-बूझ कर तंग-परेशान किया जा रहा है, उनकी शिकायतें सुन कर ऐसे अफसरों की जवाबदेही तय की जायेगी जो आम लोगों के काम लटका रहे हैं। उन्होंने कहा कि राजस्व विभाग की कारजगुज़ारी को और सुचारू करने के लिए भर्ती किये नये पटवारी जल्द ही विभाग में आ जाएंगे। इस मौके पर उच्च अधिकारियों की तरफ से राजस्व मंत्री को एक पेशकारी के द्वारा विभाग में चल रहे कामों और अन्य उपलब्धियों के बारे बताया गया। जिम्पा ने राजस्व विभाग के कामों की समीक्षा करते हुये रिकार्ड रूम अपग्रेड करने के निर्देश दिए और मुख्यमंत्री भगवंत मान की तरफ से जारी निर्देशों से अवगत करवाया। उन्हांने कहा कि मुख्यमंत्री के साफ़ निर्देश हैं कि लोगों को पारदर्शी और भ्रष्टाचार मुक्त प्रशासन दिया जाये और किसी को भी तंग-परेशान न किया जाये। उन्होंने कहा कि हरेक अधिकारी/ कर्मचारी लोक सेवा को पहल दें। जिम्पा ने इस मौके पर ख़ास तौर पर आदमपुर शहर के फ्लाईओवर का मसला जल्द हल करने की हिदायतें दीं। उन्होंने अधिकारियों से ज़मीन ऐक्वाइर करने सम्बन्धी नीति के बारे जानकारी ली और इस सम्बन्धी ख़ास निर्देश भी जारी किये। इस मौके पर अतिरिक्त मुख्य सचिव राजस्व के. ए. पी. सिन्हा, सचिव दिलराज सिंह, स्पैशल सचिव डॉ. अमरपाल सिंह और राजस्व विभाग के अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *