July 22, 2024

122 लोगों की मौत के बाद ‘भोले बाबा’ की मिली लोकेशन, पुलिस ने घेरा आश्रम

1 min read

नई दिल्ली – हाथरस में भोले बाबा के सत्संग में हुई भगदड़ में 122 लोगों की जान चली गई। इसी बीच जब लोग मर रहे थे तो बाबा मौका देखकर फरार हो गया। वहीं अब फरार हुए बाबा की लोकेशन के बारे में पुलिस को पता लग गया है। जिसके बाद पुलिस ने बाबा का आश्रम पूरी तरह से घेर लिया है।

भोले बाबा के मैनपुरी के बिछवां स्थित आश्रम में छिपे होने की पूरी आशंका जताई जा रही है। पुलिस को कई तथ्य ऐसे मिले हैं जिनके जरिए बाबा के आश्रम में होने का इशारा कर रहे हैं। घटना वाले दिन भी बाबा की आखिरी लोकेशन मैनपुरी ही थी। आश्रम के अंदर खाने-पीने की वस्तुओं की लगातार सप्लाई और इसी आश्रम का पुलिस द्वारा घेराव भी इसी ओर इशारा कर रहा है।

बिछवां में पिछले 72 घंटों से भोले बाबा बिछवां आश्रम में अघोषित रूप से हाउस अरेस्ट है। बाबा के आश्रम में 40 से 50 लोग और दर्जनभर गाड़ियां हैं। बाबा बीमार है इस बात का खुलासा उनके अधिवक्ता ने कर दिया है। कोई डॉक्टर तो अंदर नहीं गया है लेकिन बाबा डायबिटीज और ब्लड प्रेशर को कम करने के लिए जामुन मंगाकर खा रहा है। सेवादार गोपनीय रूप से बाबा के लिए जामुन ले जा रहे हैं। इसके अलावा दशहरी आम भी आश्रम के अंदर ले जाए गए हैं। आश्रम में मौजूद लोगों के खाने-पीने का स्टॉक धीरे-धीरे कम हो रहा है। दालें और सब्जियां खत्म होने की तरफ बढ़ गई हैं। आश्रम में दूध की सप्लाई लगभग बंद है। इन जरूरतों को पूरा करने के लिए दिन और रात के समय जो दो से तीन गाड़ियां आश्रम से निकलती हैं। उन्हीं में सप्लाई बाजार से खरीदकर अंदर ले जायी जाती हैं। सेवादारों का कहना है कि अंदर जो 6 लग्जरी कमरे हैं वो पूरी तरह से अंदर से बंद हैं। गुरुवार की रात बरेली से बाबा के समर्थक पहुंचे तो उनकी नोकझोंक पुलिस से हो गई लेकिन उन्हें अंदर नहीं जाने दिया गया।

पुलिस ने लगातार घेर रखा है आश्रम
बिछवां स्थित आश्रम को पुलिस ने लगातार घेर रखा है। इसके अलावा इस आश्रम में पुलिस अधिकारी कई बार अंदर जा चुके हैं। जबकि बाबा के पटियाली, आगरा स्थित ठिकानों पर कोई तैनाती नहीं है। इस तरह की प्रशासनिक गहमागहमी इस ओर इशारा कर रही है कि कोई विशिष्ट व्यक्ति अंदर है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *